UP Labour Card क्या है और इसके फायदे !

 हेलो दोस्तों आज हम बात करेंगे लेबर कार्ड के बारे में जिसे हम श्रमिक कार्ड भी कहते हैं। 


UP Labour Card

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा चालयी जाने वाली योजनाओ में से एक श्रमिक कार्ड योजना भी चलायी जा रही है जो की उत्तर प्रदेश श्रम विभाग द्वारा जो भी मजदूर हैं उनको श्रमिक कार्ड दिया जा रहा है। 

श्रमिक कार्ड के बहुत से लाभ हैं जो की उत्तर प्रदेश को जो भी श्रमिक हैं उन्हें दिया जा रहा है।  ये कार्ड उन्ही लोगो का बन रहा है जो की श्रमिक के रूप में काम करते हैं। 

आईये जानते हैं की श्रमिक कार्ड बनवाने से क्या क्या लाभ होता है। 


UP Labour Card के फायदे !


लेबर कार्ड या श्रमिक कार्ड बनवाने के बहुत से फायदे हैं।  इसका सबसे पहला और बड़ा फायदा ये है की आप जैसे ही लेबर कार्ड बनवाते हैं तो आपको एक सुरकक्षा बिमा का लाभ मिलता है। 

* अगर आप शादी हो गयी और आप की शादी हो चुकी है और आप लेबर कार्ड बनवा चुके हैं तो आपको उत्तर प्रदेश श्रम विभाग के तरफ से हर वर्ष में 3000 रूपए  का लाभ मिलेगा और अगर आप विवाहित नहीं हैं तो आपको 1000 रूपए हर साल श्रम विभाग के तरफ से  जाएगा। 


शिक्षा एवं बालिका मदद योजना 

इस योजन के अंतर्गत अगर आपके घर  पुत्री का जन्म होता है तो आपको 20000 हजार रूपए का अनुदान श्रमिक कार्ड द्वारा प्राप्त होगा। 
इस योजना का लाभ लेने के लिए आपके पास श्रमिक कार्ड  बहुत ही आवश्यक है।  उसके बाद आपको अपने नजदीकी श्रम विभाग में पुत्री पैदा होने के ३ दिन के अंदर आवेदन करना पड़ेगा। 


मेधावी छात्र योजना 

मेधावी छात्र योजना के अंतर्गत आने वाले सभी छात्र छात्राएं जिनके परिवार में  किसी भी सदस्य का श्रमिक कार्ड बना है तो वो इस योजना के अंतर्गत स्कालरशिप पा सकते हैं। 
ऐसे में जिन किसान भाईयो का श्रमिक कार्ड नहीं बना है  श्रमिक कार्ड बनवाएं क्यूंकि इससे आपके पुत्र या पुत्री को पढ़ाई करने में मदद मिलेगा। 

जो भी छात्र आगे पढ़ाई करना चाहते है वो अपने पिताजी का labour card बनवा कर उत्तर प्रदेश सरकार से स्कॉलरशिप का लाभ उठा सकते है।

ये स्कॉलरशिप उत्तर प्रदेश श्रम विभाग द्वारा निर्धारित किया गया है लेकिन इसके लिए आपके पास श्रमिक कार्ड होना बहुत ही आवश्यक है।



टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां